Thursday, 7 May 2020

अपने करियर को लेकर धोनी ने किया बड़ा ख़ुलासा,बोले में भी डरता हु



महेंद्र सिंह धोनी का विपरीत हालात में भी धैर्य बरकरार रखना उन्हें महान खिलाड़ियों में जगह दिलाता है, लेकिन इस पूर्व भारतीय खिलाड़ी को यह स्वीकार करने में कोई दिक्कत नहीं है कि उन पर भी दबाव और डर का असर होता है। खेलों में शीर्ष प्रदर्शन हासिल करने के लिए मानसिक अनुकूलन कार्यक्रम की पेश कर रही पहल एमफोर का समर्थन करते हुए धोनी ने मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दे पर अपना नजरिया रखा।

विशाखापट्टनम गैस कांड,मौत का आँकड़ा जानकार चौक जाओगे सीएम ने किए 1 करोड़ की सहायता राशि का ऐलान

एमफोर की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में महेंद्र सिंह धोनी के हवाले से कहा गया, ''मुझे लगता है कि भारत में अब भी यह स्वीकार करना बड़ा मुद्दा है कि मानसिक पहलू को लेकर कोई कमजोरी है, लेकिन आमतौर पर हम इसे मानसिक बीमारी कहते हैं।''एमफोर ने कहा कि धोनी ने विभिन्न खेलों के कोचों से बातचीत के दौरान यह टिप्पणी की। कोविड-19 महामारी के कारण देश में लॉकडाउन लागू किए जाने से पहले यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था।
धोनी को विश्व का सबसे कूल प्लेअर कहा जाता हे धोनी ने अपनी अलग ही पहचान बना ली हे कैप्टन कूल के नाम से।

संजू बाबा ने नशे की हालत में जब श्रीदेवी के साथ होटेल में की थी ये शर्मनाक हरकत

पिछले साल जुलाई में विश्व कप सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर से दूर धोनी ने कहा, ''कोई भी असल में यह नहीं कहता कि जब मैं बल्लेबाजी के लिए जाता हूं तो पहली पांच से 10 गेंद तक मेरे दिल की धड़कन बढ़ी होती हैं। मैं दबाव महसूस करता हूं। मैं थोड़ा डरा हुआ भी होता हूं, क्योंकि सभी इसी तरह महसूस करते हैं।''

अवसर: इन बड़ी कंपनियों में दो लाख नई नौकरियों के मौके जल्दी कीजिए

उन्होंने कहा, ''यह छोटी सी समस्या है, लेकिन काफी बार हम कोच को यह कहने में हिचकते हैं और यही कारण है कि किसी भी खेल में कोच और खिलाड़ी का रिश्ता काफी महत्वपूर्ण होता है।''
भारतीय कप्तान विराट कोहली के हवाले से कहा गया कि जीवन में मानसिक स्पष्टता महत्वपूर्ण है।

साल 2020 में सभी राशि वाले करें ये उपाय, नहीं होगी पैसों की तंगी

उन्होंने कहा, ''मुझे लगता है कि मानसिक स्वास्थ्य और मानसिक स्पष्टता सिर्फ खेल ही नहीं बल्कि जीवन में भी सबसे महत्वपूर्ण पहलू है।'' एमफोर के संस्थापक पूर्व भारतीय बल्लेबाज एस बद्रीनाथ और श्रवण कुमार हैं।
स्पोर स्पोर्ट्स 1 तमिल ने 10 मई को 'माइंड मास्टर्स बाय एमफोर शो को शुरू करने की तैयारी की जिसमें धोनी, कोहली और रविचंद्रन अश्विन के अलावा अन्य खेलों में मानसिक अनुकूलन और मानसिक कौशल पर अपने विचार रखेंगे।

ये भी पढ़े -चुंबक की तरह घर में पैसा खींचता है ये पौधा, कहा जाता है मनी ट्री

ये भी जाने -घर में इस जगह पर भूलकर भी न लगाएं दीवार घड़ी, वरना जीवन भर के लिए हो सकती है पैसों की कमी
ये भी जाने -वास्तु टिप्स : पानी की भरी बाल्टी पलट सकती है किस्मत, ध्यान रखें ये 5 बातें

No comments:

Post a comment

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();